स्टीव जॉब्स के अनमोल विचार

Steve Jobs

Steve Jobs (1955 – 2011)

स्टीव जॉब्स का जन्म 24 फ़रवरी 1955 को सैन फ्रांसिस्को, कैलिफ़ोर्निया में हुआ था| वे एक अमेरिकी बिजनेस टाईकून और आविष्कारक थे। वे एप्पल इंक के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी थे। वह पिक्सर एनीमेशन स्टूडियोज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी भी रहे। सन् 2006 में वह दि वाल्ट डिज्नी कम्पनी के निदेशक मंडल के सदस्य भी रहे, जिसके बाद डिज्नी ने पिक्सर का अधिग्रहण कर लिया था।

कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फ़ोन बनाने वाली कंपनी ऐप्पल के भूतपूर्व सीईओ और जाने-माने अमेरिकी उद्योगपति स्टीव जॉब्स ने संघर्ष करके जीवन में यह मुकाम हासिल किया। स्टीव को पाउल और कालरा जॉब्स ने उनकी माँ से गोद लिया था। जॉब्स ने कैलिफोर्निया में ही पढ़ाई की। उस समय उनके पास ज़्यादा पैसे नहीं होते थे और वे अपनी इस आर्थिक परेशानी को दूर करने के लिए गर्मियों की छुट्टियों में काम किया करते थे।
1972 में जॉब्स ने पोर्टलैंड के रीड कॉलेज से ग्रेजुएशन की। पढ़ाई के दौरान उनको अपने दोस्त के कमरे में ज़मीन पर सोना पड़ा। वे कोक की बोतल बेचकर खाने के लिए पैसे जुटाते थे और पास ही के कृष्ण मंदिर से सप्ताह में एक बार मिलने वाला मुफ़्त भोजन भी करते थे। जॉब्स के पास क़रीब 5.1 अरब डॉलर की संपत्ति थी और वे अमेरिका के 43वें सबसे धनी व्यक्ति थे।

स्टीव जॉब्स के कुछ अनमोल विचारो को मैं यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ जो सभी के लिए बहुत ही प्रेरणादायक है |

स्टीव जॉब्स के अनमोल विचार 

  1. महान कार्य करने का एक मात्र तरीका यह है कि आप अपने काम से प्यार करे।
  2. किसी चीज़ को महत्तवपूर्ण होने के लिए दुनिया को बदलने की जरुरत नहीं है।
  3. कभी कभी ज़िंदगी आपके सर में पत्थर से चोट करती है। पर विश्वास मत खोना।
  4. नयी खोज एक लीडर और एक अनुयायी के बीच अंतर करती है।
  5. मुझे यकीन है कि सफल और असफल उद्यमियों में आधा फर्क तो केवल दृढ विश्वास का ही है।
  6. गुणवत्ता प्रचुरता से अधिक महत्वपूर्ण है। एक छक्का दो-दो रन बनाने से कहीं बेहतर है।
  7. डिज़ाइन किसी यंत्र की बाहरी बनावट मात्र नहीं है। डिज़ाइन तो इसकी कार्यविधि का मूल है।
  8. डिज़ाइन सिर्फ यह नहीं है कि चीज कैसी दिखती या महसूस होती है। डिजाइन यह है कि चीज काम कैसे करती है।
  9. कोई प्रॉब्लम आने पर पुराने लोग पूंछते है “यह क्या है” जबकि लड़के पूंछते है “हम इसके साथ क्या कर सकते है”।
  10. यदि आपकी नज़र लाभ पर रहेगी तो आपका ध्यान उत्पाद की गुणवत्ता से हट जायेगा। लेकिन यदि आप एक अच्छा उत्पाद बनाने पर ध्यान लगाओगे तो लाभ अपने आप आपका अनुसरण करेंगा।
  11. मैं अपने जीवन को एक पेशा नहीं मानता। मैं कर्म में विश्वास रखता हूं। मैं परिस्थितियों से शिक्षा लेता हूं। यह पेशा या नौकरी नहीं है यह तो जीवन का सार है।
  12. आप ग्राहक से पूंछकर उसकी पसंद के उत्पाद नहीं बना सकते क्योंकि जब तक आप वो बनाएंगे वो कुछ नया चाहने लगेंगे।
  13. क्योंकि शायद मौत ही इस जिंदगी का सबसे बड़ा आविष्कार है।
  14. गुणवत्ता का मापदंड बनिए। कुछ लोग ऐसे वातावरण के आदि नहीं होते जहाँ उत्कृष्टता की उम्मीद की जाती है।
  15. आओ आने वाले कल में कुछ नया करते है बजाए इसकी चिंता करने के, कि कल क्या हुआ था।
  16. यह निश्चय करना कि आपको क्या नहीं करना है उतना ही महत्त्वपूर्ण है जितना कि यह निश्चय करना की आप को क्या करना है।
  17. यदि आप वास्तव में बहुत बारीकी से देखोगे तो आप पाओगे की रातो रात मिलने वाली अधिकतर सफलताओ में बहुत लम्बा वक़्त लगा है।
  18. आपका समय सीमित है, इसलिए इसे किसी और की जिंदगी जी कर व्यर्थ मत कीजिये। बेकार की सोच में मत फंसिए,अपनी जिंदगी को दूसरों के हिसाब से मत चलाइए। औरों के विचारों के शोर में अपनी अंदर की आवाज़ को, अपने इन्ट्यूशन को मत डूबने दीजिए। वे पहले से ही जानते हैं कि तुम सच में क्या बनना चाहते हो। बाकि सब गौण है।
  19. इस बात को याद रखना कि मैं बहुत जल्द मर जाऊँगा मुझे अपनी ज़िन्दगी के बड़े निर्णय लेने में सबसे ज्यादा मददगार होता है, क्योंकि जब एक बार मौत के बारे में सोचता हूँ तब सारी उम्मीद, सारा गर्व, असफल होने का डर सब कुछ गायब हो जाता है और सिर्फ वही बचता है जो वाकई ज़रूरी है। इस बात को याद करना कि एक दिन मरना है…किसी चीज को खोने के डर को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है। आप पहले से ही नंगे हैं। ऐसा कोई कारण नहीं है कि आप अपने दिल की ना सुने।
  20. किसी ख़ास समुदाय को ध्यान में रखकर उत्पादों को डिजाइन करना बेहद मुश्किल होता है क्योंकि बहुत से लोग नहीं जानते है कि वो क्या चाहते है जब तक की आप उन्हें दिखाए नहीं।

Related Posts:

भारतरत्न डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के महान विचार
शिव खेड़ा के अनमोल विचार
बिल गेट्स के अनमोल विचार
अल्बर्ट आइंस्टीन के अनमोल विचार
धीरूभाई अम्बानी के अनमोल विचार


“आपको ये प्रेरणादायक लेख कैसा लगा  , कृप्या कमेंट के माध्यम से  मुझे बताएं ………आपके कमेंट करने से मेरा उत्साह और आत्मविश्वास बढ़ता है जिससे मैं आपको और बेहतर  लेख उपलब्ध करवा सकूंगा….धन्यवाद”

“यदि आपके पास Hindi में  कोई  Article, Positive Thinking, Self Confidence, Personal Development या  Motivation से  related कोई  story या जानकारी है  जिसे आप  इस  Blog पर  Publish कराना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ  हमें  E-mail करें. हमारी E-mail Id है : gyanversha1@gmail.com.

पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ………………धन्यवाद् !”

Leave a Comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s